प्रथम पेज कृष्ण भजन जो तुमको भूल जाए वो दिल कहाँ लाऊँ भजन लिरिक्स

जो तुमको भूल जाए वो दिल कहाँ लाऊँ भजन लिरिक्स

जो तुमको भूल जाए,
वो दिल कहाँ लाऊँ,
दिल है तो दिल में क्या है,
कैसे तुम्हे बताऊँ,
जो तुमको भुल जाए,
वो दिल कहाँ लाऊँ।।



मेरे दिल का राज गम है,

तू है बेनियाज गम से,
तुझे अपने दर्दे दिल की,
तुझे अपने दर्दे दिल की,
क्या दास्ताँ सुनाऊं,
जो तुमको भुल जाए,
वो दिल कहाँ लाऊँ।।



नही अब रहा भरोसा,

मदहोश जिन्दगी का,
तेरी याद के नशे में,
तेरी याद के नशे में,
कही राह में गिर ना जाऊं,
जो तुमको भुल जाए,
वो दिल कहाँ लाऊँ।।



मेरे दिल की बेबसी में,

अरमान थक गए है,
तेरी राह पे नजर है,
तेरी राह पे नजर है,
कही और चल ना पाऊं,
जो तुमको भुल जाए,
वो दिल कहाँ लाऊँ।।



मुझे याद तुम हो लेकिन,

मुझे याद भी है अपनी,
कभी यूँ भी याद आओ,
कभी यूँ भी याद आओ,
की मैं खुद को भूल जाऊं,
जो तुमको भुल जाए,
वो दिल कहाँ लाऊँ।।



जो तुमको भूल जाए,

वो दिल कहाँ लाऊँ,
दिल है तो दिल में क्या है,
कैसे तुम्हे बताऊँ,
जो तुमको भुल जाए,
वो दिल कहाँ लाऊँ।।

Singer – Shri Vinod Agrawal Ji


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।