बाबा तेरा मेरा रिश्ता पुराना है श्याम भजन लिरिक्स

बाबा तेरा मेरा रिश्ता पुराना है,
कैसे मुझको छोड़ा,
तुमसे ये दीवाना है,
सांवरे रखले मुझे सांवरे,
सांवरे रखले मुझे सांवरे।।

तर्ज – तुमसे जुदा होकर हमें।



है जबसे जनम लिया,

तुझको अपनाया है,
तुझसे मिलने खातिर,
पल पल यह बिताया है
आएगा तू इक दिन,
मेरे दिल ने माना है,
नहीं हमसे से रूठना,
कह रहा दीवाना है,
सांवरे रखले मुझे सांवरे,
सांवरे रखले मुझे सांवरे।।



माना मैं पापी हूँ,

माना मैं अधर्मी हूँ,
तेरी माया का बाबा,
मैं भी एक कर्मी हूँ,
जो भेजा कलयुग में,
वो साथ निभाना है,
नहीं हमसे से रूठना,
कह रहा दीवाना है,
सांवरे रखले मुझे सांवरे,
सांवरे रखले मुझे सांवरे।।



तूने छोड़ा जो बाबा,

मैं जी नहीं पाउँगा,
तेरा नाम ले ले कर,
कुछ तो कर जाऊंगा,
जो भूल हुई मुझसे,
तो माफ़ भी करना है,
नहीं हमसे से रूठना,
कह रहा दीवाना है,
सांवरे रखले मुझे सांवरे,
सांवरे रखले मुझे सांवरे।।



करता हूँ एक वादा,

तुझ को ना भुलाऊँगा,
ये जीवन पूरा मैं,
सेवा में बिताऊंगा,
रहना तू संग मेरे,
मुझे साथ निभाना है,
नहीं हमसे से रूठना,
कह रहा दीवाना है,
सांवरे रखले मुझे सांवरे,
सांवरे रखले मुझे सांवरे।।



बाबा तेरा मेरा रिश्ता पुराना है,

कैसे मुझको छोड़ा,
तुमसे ये दीवाना है,
सांवरे रखले मुझे सांवरे,
सांवरे रखले मुझे सांवरे।।

स्वर – रवि बेरीवाल जी।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें