अब तो दया कर दीजिये माल रा भेरू नाथ लिरिक्स

मैं आया शरण तिहारी,
मेरी विनती सुनलो नाथ,
अब तो दया कर दीजिये,
माल रा भेरू नाथ,
अब तो दया कर दिजिए,
म्हारा भेरूजी महाराज,
बड़ा अहसान होगा,
बडा उपकार होगा,
बडा़ अहसान होगा,
मेरा कल्याण होगा।।

तर्ज – देना हो तो दीजिये।



भक्त खडे है चरन आपकी,

पूरी आस लगाए है,
भक्त खडे है चरन आपकी,
पूरी आस लगाए है,
जब जब भीड पडी भक्तों पर,
भेरू दौड के आए हैं,
जब जब भीड़ पडी भक्तों पर,
भेरू दौड के आए हैं,
मेरी खाली झोली भरना,
मेरी खाली झोली भरना,
कर किरपा की बरसात,
अब तो दया कर दिजिए,
म्हारा भेरूजी महाराज।।



इस कलयुग मे आपकी भेरू,

लीला अजब निराली है,
इस कलयुग मे आपकी भेरू,
लीला अजब निराली है,
जो भी आया द्वार पे बाबा,
कोई न जाए खाली है,
जो भी आया द्वार पे बाबा,
कोई न जाए खाली है,
भक्तों पर किरपा करना,
भक्तों पर किरपा करना,
मै जोडु दोनुु हाथ,
अब तो दया कर दिजिए,
म्हारा भेरूजी महाराज।।



इस दुनिया में आज के,

रिश्ते बडे अनोखे है,
इस दुनिया में आज के,
रिश्ते बडे अनोखे है,
मतलब होते प्यार दे,
वरना कोई न देखे हैं,
मतलब होते प्यार देे,
वरना कोई न देखे हैं,
अब आपका एक सहारा,
अब आपका एक सहारा,
करना नही दुजी बात,
अब तो दया कर दिजिए,
म्हारा भेरूजी महाराज।।



नानु पंडित आपके द्वारे,

आकर शिश झुकाया है,
नानु पंडित आपके द्वारे,
आकर शिश झुकाया है,
सुनलो भैरव नाथजी,
कंचन कर दो काया ये,
सुनलो भैरव नाथजी,
कंचन कर दो काया ये,
प्रभु आप बडे बलकारी,
प्रभु आप बडे बलकारी,
है मेरी क्या औकात,
अब तो दया कर दिजिए,
म्हारा भेरूजी महाराज।।



मैं आया शरण तिहारी,

मेरी विनती सुनलो नाथ,
अब तो दया कर दीजिये,
माल रा भेरू नाथ,
अब तो दया कर दिजिए,
म्हारा भेरूजी महाराज,
बड़ा अहसान होगा,
बडा उपकार होगा,
बडा़ अहसान होगा,
मेरा कल्याण होगा।।

गायक – महेंद्र सिंह जी राठौर।
प्रेषक – मनीष सीरवी।
(रायपुर जिला पाली राजस्थान)
9640557818


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें