ज़िन्दगी छोटी मिली है खुश रहो हर हाल में भजन लिरिक्स

ज़िन्दगी छोटी मिली है,
खुश रहो हर हाल में,
खुश रहो हर हाल में तुम,
खुश रहो हर हाल में,
ज़िन्दगी छोटी मिली हैं,
खुश रहो हर हाल में।।

तर्ज – सांवली सूरत पे मोहन।



जो हुआ हासिल उसी में,

मस्त हो अलमस्त हो,
बन्दे उतना ही मिलेगा,
जो लिखा है भाल में,
ज़िन्दगी छोटी मिली हैं,
खुश रहो हर हाल में।।



खुशियों में हर पल बिताना,

ज़िन्दगी का नाम है,
खुल के हस ले आज प्यारे,
क्या पड़ा जंजाल में,
ज़िन्दगी छोटी मिली हैं,
खुश रहो हर हाल में।।



साँसों की सरगम पे रब के,

नाम की माला जपो,
क्या पता प्रभु दे दिखाई,
साँसों की सुरताल में,
ज़िन्दगी छोटी मिली हैं,
खुश रहो हर हाल में।।



बिता कल जो जा चूका है,

‘हर्ष’ यादे है बची,
आने वाला कल छुपा है,
वक्त के ही काल में,
ज़िन्दगी छोटी मिली हैं,
खुश रहो हर हाल में।।



ज़िन्दगी छोटी मिली है,

खुश रहो हर हाल में,
खुश रहो हर हाल में तुम,
खुश रहो हर हाल में,
ज़िन्दगी छोटी मिली हैं,
खुश रहो हर हाल में।।

Singer : Sunil Joshi


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें