आजा बेगो बनवारी आ गई मोटी बीमारी लिरिक्स

आजा बेगो बनवारी,
आ गई मोटी बीमारी,
आ गयो बेरी कोरोना,
कहा से आ गयो कोरोना।।

तर्ज – धीरे धीरे बोल कोई।



चीन देश से इसकी हुई शुरुआत,

सब देशों में खूब किया उत्पात,
अमरीका गया, और रूस गया,
अब आ गई भारत की बारी,
दस्तक भारत में जारी,
आ गयो बेरी कोरोना,
कहा से आ गयो कोरोना।।



सारा भारत सुना सुना,

चिंता में सरकार,
कैसी आफत आई अब तक,
मिला नही उपचार,
कोई धूप में, कोई छाव,
कोई शहर में, कोई गांव में,
व्याकुल हो रहे नर नारी,
आ गई भारी लाचारी,
आ गयो बेरी कोरोना,
कहा से आ गयो कोरोना।।



दो हजार बीस में,

भारी सन्नाटा छाया,
थाली ताली बाजी सभी घर,
दीपक जलवाया,
दुकान बंद, घर बार बंद,
सब शहर बंद बाजार बंद,
व्याकुल हो रहे नर नारी,
आजा बेगों बनवारी,
कहा से आ गयो कोरोना।।



मन्नू राम की अर्जी मोहन,

जल्दी सुन लिज्यो,
राज पाल चरणों का चाकर,
कष्ट मिटा दिज्यो,
अब ध्यान धरो, मत देर करो,
इस विपता मे प्रभु सहाय करो,
मोय भरोशो है भारी,
कृष्ण कैनैया गिराधारी,
आ गयो बेरी कोरोना,
कहा से आ गयो कोरोना।।



आजा बेगो बनवारी,

आ गई मोटी बीमारी,
आ गयो बेरी कोरोना,
कहा से आ गयो कोरोना।।

गायक / प्रेषक – मनोज कुमार।
9785854944


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें