प्रथम पेज कृष्ण भजन उनकी रहमत का झूमर सजा है भजन लिरिक्स

उनकी रहमत का झूमर सजा है भजन लिरिक्स

उनकी रहमत का झूमर सजा है,

दोहा – क्या क्या ना दिया तूने मुझे,
क्या क्या ना मैंने पाया,
तू दे दे कर कुछ ना बोला,
मैं ले ले कर बिसराया।



उनकी रहमत का झूमर सजा है,

कमली वाले की महफ़िल सजी है,
उनकी रहमत का झुमर सजा है।।



मुझको महसूस ये हो रहा है,

तेरी महफ़िल में करुणा भरी है,
उनकी रहमत का झुमर सजा है।।



मेरी झोली भी सरकार भर दो,

आपने सब की झोली भरी है,
उनकी रहमत का झुमर सजा है।।



तेरे दर से ना खाली जाऊं,

बात आके यहाँ पे अड़ी है,
उनकी रहमत का झुमर सजा है।।



तुझको अपना समझ के मैं आया,

मांगने को तो दुनिया पड़ी है,
उनकी रहमत का झुमर सजा है।।



निकुंज में विराजे घनश्याम राधे राधे,

श्याम राधे घनश्याम राधे राधे,
श्याम राधे घनश्याम राधे राधे।।



उनकी रहमत का झुमर सजा है,

कमली वाले की महफ़िल सजी है,
उनकी रहमत का झुमर सजा है।।

Singer – Shri Anil Hanslas Bhaiya Ji


१ टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।