तूने हीरा सो जन्म गवायो भजन बिना बावरा लिरिक्स

तूने हीरा सो जन्म गवायो,
भजन बिना बावरा।।



कभी न गयो सतरी संगत में,

कभी न हरी गुण गायो,
पच पच मरीयो बैल की दाई,
सोय रहयो उठ खायो रे,
भजन बिना बावरा,
हीरा सो जन्म गवायो रे,
भजन बिना बावरा।।



यो संसार फुल सोमल रो,

सुआ देख लुभायो,
मारी चोच निकल गई रूई,
शिर धुन धुन पछितायो,
भजन बिना बावरा,
हीरा सो जन्म गवायो रे,
भजन बिना बावरा।।



यो संसार हाट बणीये री,

सब जग सोदे आयो,
चतुर माल चोगुणो किनो,
मुरख मुल गमायो,
भजन बिना बावरा,
हीरा सो जन्म गवायो रे,
भजन बिना बावरा।।



यो संसार माया रो लोभी,

ममता महल चुणायो,
कहत कबीर सुणो भाई संता,
हाथ कछु नही आयो,
भजन बिना बावरा,
हीरा सो जन्म गवायो रे,
भजन बिना बावरा।।



तूने हीरा सो जन्म गवायो,

भजन बिना बावरा।।

गायक – हरि पटेलसर।
प्रेषक – ओमप्रकाश गोदारा,
जाखानिया 9783358872


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

बाग ने बगीची दोयर बावड़ी सांवरिया मारा भजन लिरिक्स

बाग ने बगीची दोयर बावड़ी सांवरिया मारा भजन लिरिक्स

बाग ने बगीची दोयर, बावड़ी सांवरिया मारा रे राई, चंपेली रा फूल, बांसुरी भुलाए जुनी, जुनी द्वारका है राधा रानी, ए जावा बांसुरी री लारिया। सगड़ा में ले चलो रे,…

मेंहदी रची थारे हाथा मे प्रकाश माली भजन लिरिक्स

मेंहदी रची थारे हाथा मे प्रकाश माली भजन लिरिक्स

मेंहदी रची थारे हाथा मे, उड रहयो काजल आंख्या मे, चुनडी रो रंग सुरंग म्हारी आमज माँ।। अरे चांद उग्यो ओ राता मे, फूल उग्यो रण बागा मे, अरे चांद…

मन थने सतगुरु देवे ज्ञान समझकर हिरदे धारो रे

मन थने सतगुरु देवे ज्ञान समझकर हिरदे धारो रे

मन थने सतगुरु देवे ज्ञान, समझकर हिरदे धारो रे।। तू पणा ने त्याग दे, बोलो शब्द जी कारो रे, छोटा ने मोटो कह बतला, जद लागे प्यारो रे, मन थाने…

म्हारा मन में बस गयो श्याम रुणिजा नगरी को

म्हारा मन में बस गयो श्याम रुणिजा नगरी को

म्हारा मन में बस गयो श्याम, रुणिजा नगरी को, रुणिजा नगरी को, रुणिजा नगरी को, म्हारे मन में बस गयो श्याम, रुणिजा नगरी को।। घणा दिना की मन में म्हारे,…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे