तू ही जीने का है सहारा तू ही मंजिल तू ही किनारा भजन लिरिक्स

तू ही जीने का है सहारा,
तू ही मंजिल तू ही किनारा,
जान गया जग सारा,
एक तू है हमारा,
एक तू है हमारा,
तू ही जीने का है सहारा।।

तर्ज – तेरा साथ है कितना प्यारा।



तेरे चलते सांवरे,

मौज उड़ाते है,
मौज उड़ाते है,
हर पल हर दम सांवरे,
तुझे रिझाते है,
तुझे रिझाते है,
कितना सोणा कितना प्यारा,
कितना सोणा कितना प्यारा,
सारे जग से न्यारा,
एक तू है हमारा,
एक तू है हमारा,
तू ही जीने का है सहारा।

तू ही जीने का हैं सहारा,
तू ही मंजिल तू ही किनारा,
जान गया जग सारा,
एक तू है हमारा,
एक तू है हमारा,
तू ही जीने का है सहारा।।



रोम रोम में सांवरे,

तेरा नाम लिखा,
तेरा नाम लिखा,
तेरे जैसा यार मुझे,
जग में नहीं दिखा,
जग में नहीं दिखा,
इन अँखियों के आगे केवल,
इन अँखियों के आगे केवल,
तेरा एक नजारा,
एक तू है हमारा,
एक तू है हमारा,
तू ही जीने का है सहारा।

तू ही जीने का हैं सहारा,
तू ही मंजिल तू ही किनारा,
जान गया जग सारा,
एक तू है हमारा,
एक तू है हमारा,
तू ही जीने का है सहारा।।



गिरते हुए को सांवरे,

तूने थाम लिया,
तूने थाम लिया,
कैसे करूँ मैं सांवरे,
तेरा शुक्रिया,
तेरा शुक्रिया,
श्याम कभी भी भूलेगा ना,
श्याम कभी भी भूलेगा ना,
ये उपकार तुम्हारा,
एक तू है हमारा,
एक तू है हमारा,
तू ही जीने का है सहारा।।

तू ही जीने का हैं सहारा,
तू ही मंजिल तू ही किनारा,
जान गया जग सारा,
एक तू है हमारा,
एक तू है हमारा,
तू ही जीने का है सहारा।।



तू ही जीने का है सहारा,

तू ही मंजिल तू ही किनारा,
जान गया जग सारा,
एक तू है हमारा,
एक तू है हमारा,
तू ही जीने का है सहारा।।

Singer : Kanhaiya Mittal


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें