तेरी मोरछड़ी से सांवरे दुःख दूर हो गए भजन लिरिक्स

तेरी मोरछड़ी से सांवरे,
दुःख दूर हो गए,
तेरे इस झाड़े से बाबा,
सब काम हो गए,
तेरे इस झाड़े से बाबा,
सब काम हो गए।।

तर्ज – दिल दीवाने का।



वो श्याम बहादुर बाबा,

मंदिर में तेरे आए,
और मोरछड़ी से बाबा,
ताले वो तो खुलवाए,
तेरी इसी कृपा से बाबा,
वो निहाल हो गए,
तेरी मोरछड़ी से साँवरे,
दुःख दूर हो गए।।



जिसने भी बाबा इसका,

झाड़ा इकबे लगवाया,
उस पर तो फिर बाबा,
कोई संकट ना आया,
तेरे इस झाडे से बाबा,
सब भक्त तर गए,
तेरी मोरछड़ी से साँवरे,
दुःख दूर हो गए।।



‘संजू घनश्याम’ दीवाने,

झाड़ा लगवाने आए,
जब झाड़ा लग गया बाबा,
किस्मत के खुल गए ताले,
बलराम शशि जगदीश जी,
मालामाल हो गए,
तेरी मोरछड़ी से साँवरे,
दुःख दूर हो गए।।



तेरी मोरछड़ी से सांवरे,

दुःख दूर हो गए,
तेरे इस झाड़े से बाबा,
सब काम हो गए,
तेरे इस झाड़े से बाबा,
सब काम हो गए।।

Singer – Sanju Ghanshyam


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें