तेरा शुकर करूँ हर बार ऐ खाटू वाले भजन लिरिक्स

तेरा शुकर करूँ हर बार,
ऐ खाटू वाले,
तेरे कितने गिनूँ उपकार,
ऐ खाटू वाले,
तेरा शुकर करूं हर बार,
ऐ खाटू वाले।।

तर्ज – दम आवे ना आवे।



जब जब मुझपे बाबा,

विपदाएं आती हैं,
सुनकर के नाम वो भी,
दूर चली जाती हैं,
तेरी महिमा अपरम्पार,
ऐ खाटू वाले,
तेरा शुकर करूं हर बार,
ऐ खाटू वाले।।



हार करके जो भी बाबा,

दर पे तेरे आया है,
जीत बनके श्याम तूने,
गले से लगाया है,
तू आया है हर बार,
ऐ खाटू वाले,
तेरा शुकर करूं हर बार,
ऐ खाटू वाले।।



आस लेके ‘शुभम’ जब भी,

दर तेरे आया है,
खुशियां जहान की तेरे,
दर से वो पाया है,
तूने कर दिया मालामाल,
ऐ खाटू वाले,
तेरा शुकर करूं हर बार,
ऐ खाटू वाले।।



तेरा शुकर करूँ हर बार,

ऐ खाटू वाले,
तेरे कितने गिनूँ उपकार,
ऐ खाटू वाले,
तेरा शुकर करूं हर बार,
ऐ खाटू वाले।।

Singer & Writer – Shubham Jaiswal


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें