सोनाला में जावना भेरू रा गुण गावना भजन लिरिक्स

सोनाला में जावना,
भेरू रा गुण गावना,
चरना मे शिश नमावना जी,
सोंनाला में जावना,
भेरू रा गुण गावना,
चरना मे शिश नमावना जी,
पाप कियोडा सब मिट जावे,
भेरू रा दर्शन पावना जी,
पाप कियोडा सब मिट जावे,
भेरू रा दर्शन पावना जी।।



अरे सोनाले डूंगर भेरूजी रो,

लागे घणो सुहावनो जी,
अरे सोनाले डूंगर भेरूजी रो,
लागे घणो सुहावनो जी,
शाम सवेरे होवे आरती,
झालर झिंजा बजावना जी,
शाम सवेरे होवे आरती,
झालर झिंजा बजावना जी।।



अरे सोनाला रा दर्शन करना,

चरना मे धोक लगावना जी,
सोनाला रा दर्शन करना,
चरना मे धोक लगावना जी,
प्रेम भाव सु देवा परिक्रमा,
जनम सफल हो जावना जी,
प्रेम भाव सु देवा परिक्रमा,
जनम सफल हो जावना जी।।



अरे मात ब्राम्हणी रा दर्शन करना,

जगमग ज्योत जगावना जी,
अरे मात ब्राम्हणी रा दर्शन करना,
जगमग ज्योत जगावना जी,
जय माँ अम्बा जय जगदम्बा,
बार बार गुण गावना जी,
अरे जय माँ अम्बा जय जगदम्बा,
बार बार गुण गावना जी।।



ढोल नगाडा नोपत बाजे,

झालर शंख बजावना जी,
ढोल नगाडा नोपत बाजे,
झालर शंख बजावना जी,
रमेश भण्डारी करे आरती,
भगतो ने आका देवना जी,
रमेश भण्डारी करे आरती,
भगतो ने आका देवना जी।।



अर्जुन राव भेरूजी रे मिन्दर,

नित उठ शिश झुकावना जी,
अर्जुन राव भेरूजी रे मिन्दर,
नित उठ शिश झुकावना जी,
प्रकाश माली भजन गावे जी,
बेडा पार लगावना जी,
प्रकाश माली भजन गावे जी,
बेडा पार लगावना जी।।



सोनाला में जावना,

भेरू रा गुण गावना,
चरना मे शिश नमावना जी,
सोंनाला में जावना,
भेरू रा गुण गावना,
चरना मे शिश नमावना जी,
पाप कियोडा सब मिट जावे,
भेरू रा दर्शन पावना जी,
पाप कियोडा सब मिट जावे,
भेरू रा दर्शन पावना जी।।

गायक – प्रकाश माली जी।
प्रेषक – मनीष सीरवी
9640557818


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें