प्रथम पेज कृष्ण भजन श्याम मैं तेरा हो जाऊं भजन लिरिक्स

श्याम मैं तेरा हो जाऊं भजन लिरिक्स

श्याम मैं तेरा हो जाऊं,
मेरे दिल का है अरमान मैं तेरा हो जाऊं,
मेरे खाटू वाले श्याम मैं तेरा हो जाऊं,
ये पहली है आखरी,
ये ख्वाहिश इस दिल की,
मेरे सांवरे यही तुझसे है,
सिफारिश इस दिल की,
कर दे इतना अहसान,
मेरे खाटु वाले श्याम मैं तेरा हो जाऊँ।।

तर्ज – मैं तेरा हो जाऊं।



मैं एक राही भटका हूँ,

मेरी मंजिल तू है बाबा,
मैं भंवर में अटका हूँ,
मेरा साहिल तू है बाबा,
कर दया कृपा निधान,
दे मुझपे अपना ध्यान,
मैं तेरा हो जाऊं।।



तेरी प्रीत में ही मेरी तो,

छिपी जीवन की सच्चाई,
तेरे चरण चाकरी से तो,
मेरी बढकर नहीं कमाई,
करूँ मैं तेरा गुणगान,
सांवरे सुबह हो या शाम,
मैं तेरा हो जाऊं।।



मैंने बाँधी जो डोर तुमसे,

कभी टूटे न बंधन अपना,
ये पकड़ के बाह ‘कुंदन’ की,
कर दे पूरा तू ये सपना,
तू ‘लख्खा’ की पहचान,
मेहर कर मुझपे मेहरबान,
मैं तेरा हो जाऊं।।



मेरे दिल का है अरमान मैं तेरा हो जाऊं,
मेरे खाटू वाले श्याम मैं तेरा हो जाऊँ,
ये पहली है आखरी,
ये ख्वाहिश इस दिल की,
मेरे सांवरे यही तुझसे है,
सिफारिश इस दिल की,
कर दे इतना अहसान,
मेरे खाटु वाले श्याम मैं तेरा हो जाऊँ।।

गायक – रामकुमार जी लक्खा।


3 टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।