सबकी लाज बचावे बाबो तेरी भी सुण लेवेगो भजन लिरिक्स

सबकी लाज बचावे बाबो,
तेरी भी सुण लेवेगो,
तेरे जीवन की नैया ने,
बनकर माझी खेवेगो,
सबकी लाज बचावे बाबों,
तेरी भी सुण लेवेगो।।

तर्ज – नगरी नगरी द्वारे द्वारे।



आस को दिवलो जला ले भाया,

प्रेम की डोर बढ़ा ले,
प्रेम की डोर बढ़ा ले,
छोड़ भरोसो दुनिया को तू,
साँवरिये ने रिझा ले,
साँवरिये ने रिझा ले,
जो भी चावेगो तन्ने यो,
सेठ सांवरो देवेगो,
सबकी लाज बचावे बाबों,
तेरी भी सुण लेवेगो।।



हिवडे माहि ज्योत जला ले,

साँवरिये के नाम की,
साँवरिये के नाम की,
माथे लगा ले चन्दन सामी,
माटी खाटू धाम की,
माटी खाटू धाम की,
मायड बाबुल की जईयाँ यो,
तन्ने सदा ही सेवेगो,
सबकी लाज बचावे बाबों,
तेरी भी सुण लेवेगो।।



बाथि घाल के लाढ करे यो,

निज भक्ता ने पिचाने,
निज भक्ता ने पिचाने,
‘चोखानी’ तेरे मन की बाता,
लखदातार ही जाने,
लखदातार ही जाने,
दया की बिरखा करके तेरी,
सुखी बगिया भेवेगो,
Bhajan Diary,
सबकी लाज बचावे बाबों,
तेरी भी सुण लेवेगो।।



सबकी लाज बचावे बाबो,

तेरी भी सुण लेवेगो,
तेरे जीवन की नैया ने,
बनकर माझी खेवेगो,
सबकी लाज बचावे बाबों,
तेरी भी सुण लेवेगो।।

Singer – Ishika Barthuniya
Lyricist – Pramod Chokhani Ji