साँवरे बिन तुम्हारे ये जी ना लगे भजन लिरिक्स

साँवरे बिन तुम्हारे,
ये जी ना लगे,
साँवरे बिन तुम्हारें,
ये जी ना लगे,
आओ पास हमारे,
आओ पास हमारे,
ये जी ना लगे,
साँवरे बिन तुम्हारें,
ये जी ना लगे।।
तर्ज – साथिया नहीं जाना की।



भजन सुनाने,

तुझको रिझाने,
आया साँवरे,
तुम ना सुनो तो,
किसको सुनाऊँ,
बोलो साँवरे,
फीके साज ये सारे,
फीके साज ये सारे,
ये जी ना लगे,
साँवरे बिन तुम्हारें,
ये जी ना लगे।।



भक्तो ने मिलकर,

दर को सजाया,
प्यारे साँवरे,
चाँदनी कैसी,
बिन चंदा के बोलो,
मेरे साँवरे,

फीके चाँद सितारे,
फीके चाँद सितारे,
ये जी ना लगे,
साँवरे बिन तुम्हारे,
ये जी ना लगे।।



कुछ नहीं चाहूँ,

तुझसे ओ बाबा,
बस आइये,
सामने मेरे,
बैठके बाबा,
मुस्कुराइये,
‘नंदू’ प्रेम पुकारे,
‘नंदू’ प्रेम पुकारे,
ये जी ना लगे,
साँवरे बिन तुम्हारें,
ये जी ना लगे।।



साँवरे बिन तुम्हारे,

ये जी ना लगे,
साँवरे बिन तुम्हारे,
ये जी ना लगे,
आओ पास हमारे,
आओ पास हमारे,
ये जी ना लगे,
साँवरे बिन तुम्हारें,
ये जी ना लगे।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें