सनेड़ो साम्भलजो लाल रामापीर रो सनेडो

सनेड़ो साम्भलजो लाल,
रामापीर रो सनेडो।।

हे लीलो घोडो नवलखो,
ने मोत्या जडी रे लगाम,
लीलो घोडो नवलखो,
ने मोत्या जडी रे लगाम,
घोडलो घूमे गाँव में,
घोडलो घूमे गाँव में,
ओतो गढ रूनीचा रे धाम।
लाल सनेडो,
सनेडो सनेडो सनेडो,
लाल सनेडो,
बाबो घूमावे घोडलीयो,
लाल सनेडो,
हे राम सरवर री पाल लाल सनेडो,
भगतो रो रखवाल लाल सनेडो,
पीरा रो है पीर लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो ओ।।



हे सुगना बाई रो बीर लाल सनेडो,

अजमल घर अवतार लाल सनेडो,
सुख पावे संसार लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो ओ।।



हे लीलो ही से धरती धुंजे,

जद आवे रामापीर,
लीलो ही से धरती धूंजे,
जद आवे रामापीर,
आवे बाबा रो घोडलो,
ओ म्हारो धोली ध्वजा बंध पीर।
लाल सनेडो,
हे सनेडो सनेडो सनेडो,
लाल सनेडो,
गढ रूनीचा मे धाम लाल सनेडो,
हे भगता रो रखवाल लाल सनेडो,
दुखीया रो दातार लाल सनेडो,
कलयुग रो अवतार लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो ओ।।



हे नेतल रानी रो भरतार लाल सनेडो,

अजमल घर अवतार लाल सनेडो,
सुख पावे संसार लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो ओ।।



हे हालो संतो देवरे,

ने मिलसी रामापीर,
हालो संतो देवरे,
ने मिलसी रामापीर,
दुखीया रा दुख दूर करे,
दुखीया रा दुख दूर करे,
ओ तो सुगना बाई रो बीर।
लाल सनेडो,
हे सनेडो सनेडो सनेडो,
लाल सनेडो,
हे गढ रूनीचा मे धाम लाल सनेडो,
पीरा रो है पीर लाल सनेडो,
माता मैणादे रो लाल लाल सनेडो,
हे सुगना बाई रो बीर लाल सनेडो,
अजमल घर अवतार लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो ओ।।



हे जय बाबा री बोले लाल सनेडो,

नही बोले पछताय लाल सनेडो,
नेतल रानी रो भरतार लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो ओ।।



हे रूणझुण बाजे घुंगरा,

ने बाजे घोडे रा पोड,
रूणझुण बाजे घुंगरा,
ने बाजे घोडे रा पोड,
रामदेव अवतार ने,
रामदेव अवतार ने,
ए मै तो अरज करू कर जोड।
लाल सनेडो,
हे सनेडो सनेडो सनेडो,
लाल सनेडो,
पिछम धरा सु आयो लाल सनेडो,
हे अलबेलों अवतार लाल सनेडो,
लीले रो असवार लाल सनेडो,
कलयुग रो अवतार लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो,
खम्मा घणी खम्मा घणी,
बोले लाल सनेडो ओ।।



हे बाबो राजी होवे लाल सनेडो,

नही बोले पछताय लाल सनेडो,
भगतो रो आधार लाल सनेडो,
गावे अर्जुन लाल राव सनेडो,
हे सनेडो हे सनेडो सनेडो लाल सनेडो।।



हे रामा सामा आवजो,

रामा सामा आवजो,
कलयुग बहत करूर,
हे अरज करू अजमाल रा,
साम्भलजो नी हुज़ूर,
पीरजी साम्भलजो नी हुज़ूर,
बापजी साम्भलजो नी हुज़ूर।।

गायक – प्रकाश माली जी।
प्रेषक – मनीष सीरवी।
(रायपुर जिला पाली राजस्थान)
9640557818


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें