प्रभु जी तुम चंदन हम पानी हिंदी भजन लिरिक्स

प्रभु जी तुम चंदन हम पानी,
जाकी अंग-अंग बास समानी,
प्रभु जी तुम चँदन हम पानी।।



प्रभु जी तुम घन बन हम मोरा,

जैसे चितवत चंद्र चकोरा,
प्रभु जी तुम चँदन हम पानी,
जाकी अंग-अंग बास समानी,
प्रभु जी तुम चँदन हम पानी।।



प्रभु जी तुम मोती हम धागा,

जैसे सोनहिं मिलत सोहागा,
प्रभु जी तुम चँदन हम पानी,
जाकी अंग-अंग बास समानी,
प्रभु जी तुम चँदन हम पानी।।



प्रभु जी तुम दीपक हम बाती,

जाकी जोति बरै दिन राती,
प्रभु जी तुम चँदन हम पानी,
जाकी अंग-अंग बास समानी,
प्रभु जी तुम चँदन हम पानी।।



प्रभु जी तुम स्वामी हम दासा,

ऐसी भक्ति करे ‘रैदासा’,
प्रभु जी तुम चँदन हम पानी,
जाकी अंग-अंग बास समानी,
प्रभु जी तुम चँदन हम पानी।।



प्रभु जी तुम चंदन हम पानी,

जाकी अंग-अंग बास समानी,
प्रभु जी तुम चँदन हम पानी।।

स्वर – श्री अनूप जलोटा जी।
Upload – Sahab Singh Yadav
9598214206


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें