जो करते रहोगे भजन धीरे धीरे भजन लिरिक्स

जो करते रहोगे भजन धीरे धीरे,
तो मिल जायेगा वो सजन धीरे धीरे।।



अगर उनसे मिलने की दिल में तमन्ना,

अगर प्रभु से मिलने की दिल में तमन्ना,
अगर हरी से मिलने की दिल में तमन्ना,
करो शुद्ध अंतःकरण धीरे धीरे,
जो करते रहोगें भजन धीरे धीरे,
तो मिल जायेगा वो सजन धीरे धीरे।।



कोई काम दुनिया में मुश्किल नहीं है,

कोई काम दुनिया में मुश्किल नहीं है,
जो करते रहोगे यतन धीरे धीरे,
जो करते रहोगें भजन धीरे धीरे,
तो मिल जायेगा वो सजन धीरे धीरे।।



करो प्रेम से भक्ति सेवा हरी की,

करो प्रेम से भक्ति पूजा हरी की,
तो मिल जायेगा वो रतन धीरे धीरे,
जो करते रहोगें भजन धीरे धीरे,
तो मिल जायेगा वो सजन धीरे धीरे।।



जो करते रहोगे भजन धीरे धीरे,

तो मिल जायेगा वो सजन धीरे धीरे।।

स्वर – श्री प्रेमभूषण जी महाराज।
Upload By – Jaswant Singh Rajput
9754660656


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें