फूलों से घर सजा लिया सरकार आ रहे है भजन लिरिक्स

फूलों से घर सजा लिया,
सरकार आ रहे है।

दोहा – आज ख़ुशी से झूमे ये मन,
अजब नशा है छाया,
श्याम रंग में रंग दिया खुद को,
अजब नशा है छाया।



फूलों से घर सजा लिया,

सरकार आ रहे है,
हुई धन्य मेरी ये कुटिया,
सरकार आ रहे है,
फूलो से घर सजा लिया,
सरकार आ रहे है।।



दरबार एक प्यारा,

प्यारा सा है सजाया,
आँगन में एक झूला,
है प्रेम का ये डाला,
सब इंतज़ाम कर दिया,
सरकार आ रहे है,
फूलो से घर सजा लिया,
सरकार आ रहे है।।



पलकें बिछाए अखियाँ,

बेचैन हो रही है,
मस्ती में सांवरे की,
खुद को ये खो रही है,
मुझसे निभाने यारियां,
सरकार आ रहे है,
फूलो से घर सजा लिया,
सरकार आ रहे है।।



मेरी ज़िन्दगी के मालिक,

मिलने को आज हमसे,
गूंजेगी गलियां ‘कुंदन’,
लीले की छम छम से,
करने को मेहरबानियां,
सरकार आ रहे है,
फूलो से घर सजा लिया,
सरकार आ रहे है।।



फूलो से घर सजा लिया,

सरकार आ रहे है,
हुई धन्य मेरी ये कुटिया,
सरकार आ रहे है,
फूलो से घर सजा लिया,
सरकार आ रहे है।।

Singer – Priti Sargam Singh


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें