पाना है यदि प्रभु को तो प्यार में मिलेगा लिरिक्स

पाना है यदि प्रभु को,
तो प्यार में मिलेगा,
कण कण में ढूंढो प्यारे,
कण कण में ढूंढो प्यारे,
संसार में मिलेगा,
पाना हैं यदि प्रभु को,
तो प्यार में मिलेगा।।



जिस रूप में जो दर्शन,

चाहा उसे मिला है,
भक्तों से अपने प्रभु का,
ऐसा ही सिलसिला है,
तट पर किसी को राही,
तट पर किसी को राही,
मझधार में मिला है,
पाना हैं यदि प्रभु को,
तो प्यार में मिलेगा।।



कहने का मेरे इतना प्रभुजी,

केवल समझ लो आशय,
आंखे है गर तुम्हारी,
एक प्यार का जलाशय,
प्रेम अश्रु में नहाता,
प्रेम अश्रु में नहाता,
रस धार में मिलेगा,
पाना हैं यदि प्रभु को,
तो प्यार में मिलेगा।।



फूलों के बीच की खुशबू,

बनकर महक रहा है,
कलरव में पक्षियों के,
सुन लो चहक रहा है,
फूलों के पास ढूंढो,
फूलों के पास ढूंढो,
हर खार में मिलेगा,
पाना हैं यदि प्रभु को,
तो प्यार में मिलेगा।।



पाना है यदि प्रभु को,

तो प्यार में मिलेगा,
कण कण में ढूंढो प्यारे,
कण कण में ढूंढो प्यारे,
संसार में मिलेगा,
पाना हैं यदि प्रभु को,
तो प्यार में मिलेगा।।

Singer – Devendra Pathak Ji


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

हे सूर्य पुत्र शनिदेव हमें रखना करूणा की छाँव में भजन लिरिक्स

हे सूर्य पुत्र शनिदेव हमें रखना करूणा की छाँव में भजन लिरिक्स

हे सूर्य पुत्र शनिदेव हमें, रखना करूणा की छाँव में, काँटा भी ना चूभने देना कभी, कष्टों का हमारे पाँवो में, हे सूर्य पुत्र शनिदेव हमे, रखना करूणा की छाँव…

गुरू रे गोविन्द दिजो रे बताय गुरूजी तुम्हारा पय्याँ लागू हो

गुरू रे गोविन्द दिजो रे बताय गुरूजी तुम्हारा पय्याँ लागू हो

गुरू रे गोविन्द दिजो रे बताय, गुरू रे गोवींद दिजो रे बताय, गुरूजी तुम्हारा पय्याँ लागू हो, गुरूजी तुम्हारा पय्याँ लागू हो।। गुरू रे घट म ईधारो, बाहेर सुज नही…

तेरी दो दिन की जिन्दगानी प्राणी भजले नाम हरि का

तेरी दो दिन की जिन्दगानी प्राणी भजले नाम हरि का

तेरी दो दिन की जिन्दगानी, प्राणी भजले नाम हरि का, है ये दुनिया आनी जानी, प्राणी भजले नाम हरि का, तू ने मैली चादर करदी, सर पे पाप की गठरी…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे