प्रथम पेज प्रकाश माली भजन ओलुडी आवे ओ म्हाने आपरी ओ मारा बीर भजन लिरिक्स

ओलुडी आवे ओ म्हाने आपरी ओ मारा बीर भजन लिरिक्स

ओलुडी आवे ओ म्हाने,
आपरी ओ मारा बीर।

सुगना री सायलडी सुनो,
ओ हो सुगना री सायलडी री सुनो,
ओलुडी आवे ओ माने,
आपरी ओ मारा बीर,
ओलुडी आवे ओ माने,
आपरी ओ मारा बीर।।

तर्ज – भजना में जावा कोणी दे।



अलगी परणाई पुंगल,

मायने ओ मारा बीर,
अलगी परणाई पुंगल,
मायने ओ मारा बीर,
दिनी धोरलिया रे माय,
दिनी धोरलिया रे माय,
दिनडा मैं काटू दुखडा,
मायने ओ मारा बीर,
मारा दुखडा मेटो आय,
मारा दुखडा मेटो आय,
ओलुडी आवे ओ माने,
आपरी ओ मारा बीर।।



सासुजी बोले मोसा,

बोलडा ओ मारा बीर,
सासुजी बोले मोसा,
बोलडा ओ मारा बीर,
क्यु न आयो थारो बीर,
क्यु न आयो थारो बीर,
रातडली काटू मै तो रोवती,
ओ मारा बीर,
कैया धरू हिवडे धीर,
कैया धरू हिवडे धीर,
ओलुडी आवे ओ माने,
आपरी ओ मारा बीर।।



भूली सहेलीया माने,

साथ री ओ रामापीर,
भूली सहेलीया माने,
साथ री ओ रामापीर,
माने भूल्या मायर बाप,
माने भूल्या मायर बाप,
थे हो रूनीचे वाला राजवी,
ओ मारा बीर,
कैया भूल्या बीरा आप,
कैया भूल्या बीरा आप,
ओलुडी आवे ओ माने,
आपरी ओ मारा बीर।।



सुगना ने लेवन वेगा,

आवजो ओ मारा बीर,
सुगना ने लेवन वेगा,
आवजो ओ मारा बीर,
आवो लीले रा असवार,
आवो लीले रा असवार,
दास अशोक चाकर,
आपरो ओ रामापीर,
मारो बेडो करो पार,
मारो बेडो करो पार,
ओलुडी आवे ओ माने,
आपरी ओ मारा बीर।।



सुगना री सायलडी सुनो,

ओ हो सुगना री सायलडी री सुनो,
ओलुडी आवे ओ म्हाने,
आपरी ओ मारा बीर,
ओलुडी आवे ओ माने,
आपरी ओ मारा बीर।।

गायक – प्रकाश माली जी।
प्रेषक – मनीष सीरवी
9640557818


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।