ओ हारे के सहारे देना मुझे सहारा भजन लिरिक्स

ओ हारे के सहारे,
देना मुझे सहारा,
कोई नहीं हमारा,
ओ हारे के सहारें,
हारे का सहारा बाबा श्याम,
हारे का सहारा मेरा श्याम।।

तर्ज – ओ नन्हे से फ़रिश्ते।
भजन – आजा मेरे कन्हैया।



मेरे हाल पे नहीं क्यों,

तुम तो तरस हो खाते,
निष्ठुर बने हुए हो,
मोहन नहीं क्यों आते,
पिघलेगा कब ना जाने,
कोमल ह्रदय तुम्हारा,
ओ हारे के सहारें,
देना मुझे सहारा,
कोई नहीं हमारा,
ओ हारे के सहारें,
हारे का सहारा बाबा श्याम,
हारे का सहारा मेरा श्याम।।



मझधार में है नैया,

इसको ज़रा सम्भालो,
विश्वास ये ना डोले,
आकर मुझे बचा लो,
एक आस है तुम्ही से,
दोगे तुम्ही किनारा
ओ हारे के सहारें,
देना मुझे सहारा,
कोई नहीं हमारा,
ओ हारे के सहारें,
हारे का सहारा बाबा श्याम,
हारे का सहारा मेरा श्याम।।



मुझपे कृपा की होंगी,

कब ये तेरी निगाहें,
अब तो गले लगा लो,
फैला के अपनी बाहें,
अब ‘वेद’ का नहीं है,
तुम बिन कहीं गुज़ारा,
ओ हारे के सहारें,
देना मुझे सहारा,
कोई नहीं हमारा,
ओ हारे के सहारें,
हारे का सहारा बाबा श्याम,
हारे का सहारा मेरा श्याम।।



ओ हारे के सहारे,

देना मुझे सहारा,
कोई नहीं हमारा,
ओ हारे के सहारें,
हारे का सहारा बाबा श्याम,
हारे का सहारा मेरा श्याम।।

Singer – Ankit Sharma Ansh


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें