ओ बरसाने वारी अपनी कृपा बरसा भजन लिरिक्स

ओ बरसाने वारी अपनी कृपा बरसा,
द्वार तिहारे नैना निहारे,
नज़रें रहम की करा,
ओ बरसानें वारी अपनी कृपा बरसा।।



तेरा ही नाम हो जीवन की शाम हो,

राधे राधे राधे राधे आखरी ये नाम हो,
तुझको पुकारूँ तुमको निहारूं,
मैं फिर रहा,
ओ बरसानें वारी अपनी कृपा बरसा।।



दुनिया से हारा तेरा सहारा,

तेरे सिवा कोई दूजा न हमारा,
हार गया हूँ रो मैं रहा हूँ,
मैं की करा,
ओ बरसानें वारी अपनी कृपा बरसा।।



हर लो बाधा मेरी श्री राधा,

तेरे बिन मेरा कोई ना राधा,
कष्ट मिटा दे पार लगा दे,
सुनले ज़रा,
ओ बरसानें वारी अपनी कृपा बरसा।।



ओ बरसाने वारी अपनी कृपा बरसा,

द्वार तिहारे नैना निहारे,
नज़रें रहम की करा,
ओ बरसानें वारी अपनी कृपा बरसा।।

Singer& Writer – Bal Vyas Vivek Ji Maharaj


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें