ना मैं फूल लाया हूँ ना प्रसाद लाया हूँ भजन लिरिक्स

ना मैं फूल लाया हूँ ना प्रसाद लाया हूँ भजन लिरिक्स

ना मैं फूल लाया हूँ,
ना प्रसाद लाया हूँ,
साईं बाबा से कहने,
दिल की बात आया हूँ।।

तर्ज – कभी राम बनके।



कब रंग अपना मुझपे चढाओगे,

कब अपना दीवाना बनाओगे,
ये फरियाद लाया हूँ,
ये मुराद लाया हूँ,
साईं बाबा से कहने,
दिल की बात आया हूँ।।



जग में जियूं तो मैं तेरा होके जियूं,

तेरी भक्ति का रस उम्र भर मैं पियूं,
गमो का सताया हूँ,
दुखो का सताया हूँ,
साईं बाबा से कहने,
दिल की बात आया हूँ।।



साईं अपने भक्तो की विनती सुनो,

ये नादान ये ना इनकी गलती गिनो,
खाली हाथ आए है,
कुछ ना साथ लाए है,
साईं बाबा से कहने,
दिल की बात आया हूँ।।



ना मैं फूल लाया हूँ,

ना प्रसाद लाया हूँ,
साईं बाबा से कहने,
दिल की बात आया हूँ।।

Singer – Banty Bajariya


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें