म्हारो संदेशो म्हारा गुरुजी ने दीजों रे भजन लिरिक्स

म्हारो संदेशो म्हारा,
गुरुजी ने दीजों रे,
सेवक ने चरणा में लीजो रे,
म्हारोड़ो संदेशो म्हारा,
गुरुजी ने दीजों रे।।



काया रो देवल,

म्हाने लागे है काच्छो,
साचोडो मार्ग बतला दीजों रे,
म्हारोड़ो संदेशो म्हारा,
गुरुजी ने दीजों रे।।



काया सु निकल हँसो,

उडे कटे जावे,
वो घर म्हाने बताई दीजो रे,
म्हारोड़ो संदेशो म्हारा,
गुरुजी ने दीजों रे।।



ब्रम्हस्वरूपी म्हाने,

नज़र नी आवे,
दर्शन म्हाने दीजो रे,
म्हारोड़ो संदेशो म्हारा,
गुरुजी ने दीजों रे।।



थै तो हमारा गुरुजी,

मै हूँ थारो,
जनम जनम भेला रीजो रे,
म्हारोड़ो संदेशो म्हारा,
गुरुजी ने दीजों रे।।



दोई कर जोड हरी,

गुरु संतो जी बोले,
मुक्ति रो मारग म्हाने दीजो रे,
म्हारोड़ो संदेशो म्हारा,
गुरुजी ने दीजों रे।।



म्हारो संदेशो म्हारा,

गुरुजी ने दीजों रे,
सेवक ने चरणा में लीजो रे,
म्हारोड़ो संदेशो म्हारा,
गुरुजी ने दीजों रे।।

प्रेषक – सिंगर सुनिल नन्दवान
6375774146


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें