प्रथम पेज साईं बाबा भजन मेरे साई तेरी शिरडी बहुत अब याद आती है लिरिक्स

मेरे साई तेरी शिरडी बहुत अब याद आती है लिरिक्स

मेरे साई तेरी शिरडी,
बहुत अब याद आती है,
जो बैठूं ध्यान में तेरे,
जो बैठूं ध्यान में तेरे,
मेरी बिगड़ी बनाती है,
मेरे साँई तेरी शिरडी,
बहुत अब याद आती है।।

तर्ज – सजा दो घर को गुलशन।



जो भर आई मेरी आँखे,

साईं तेरे दर्श पाने को,
साईं तेरे दर्श पाने को,
तेरे दर्शन की प्यासी है,
तेरे दर्शन की प्यासी है,
मेरी अँखियाँ उदासी है,
मेरे साँई तेरी शिरडी,
बहुत अब याद आती है।।



तेरे चरणों में सर रखकर,

हुआ रोशन हर एक मंजर,
हुआ रोशन हर एक मंजर,
धुनि जब जगमगाती है,
धुनि जब जगमगाती है,
हमें दुःख से बचाती है,
मेरे साँई तेरी शिरडी,
बहुत अब याद आती है।।



मेरे साई तेरी शिरडी,

बहुत अब याद आती है,
जो बैठूं ध्यान में तेरे,
जो बैठूं ध्यान में तेरे,
मेरी बिगड़ी बनाती है,
मेरे साँई तेरी शिरडी,
बहुत अब याद आती है।।

Singer – Akash Sahare


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।