चलो चलो साईं के दरबार में जी चलो शिर्डी एक बार

चलो चलो साईं के दरबार में जी चलो शिर्डी एक बार

चलो चलो साईं के दरबार में जी,
चलो शिर्डी एक बार,
चलो शिर्डी एक बार,
दर्शन कर लो जी शिर्डी साईनाथ का,
दर्शन कर लो जी शिर्डी साईनाथ का।।



बेला चमेली और गुलाब से,

महके साईं दरबार,
कैसे बखान करूँ,
शिर्डी साईनाथ का,
दर्शन कर लो जी शिर्डी साईनाथ का।।



सोने के सिंहासन पर बैठे,

मेरे प्यारे साईनाथ,
सिर मेरे रहे हाथ,
सदा साईनाथ का,
दर्शन कर लो जी शिर्डी साईनाथ का।।



शिव का ही है एक रूप,

मेरे प्यारे बाबा साईनाथ,
चारो दिशा में बने धाम,
मेरे प्यारे साई का,
दर्शन कर लो जी शिर्डी साईनाथ का।।



ले ले तू भी आधार,

हो जाए बेड़ा तेरा पार,
‘रामलाल सोनी’ करे,
भजन साईनाथ का,
दर्शन कर लो जी शिर्डी साईनाथ का।।



चलो चलो साईं के दरबार में जी,

चलो शिर्डी एक बार,
चलो शिर्डी एक बार,
दर्शन कर लो जी शिर्डी साईनाथ का,
दर्शन कर लो जी शिर्डी साईनाथ का।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें