मेरे कदम कदम पे साथ चलता है साँवरा भजन लिरिक्स

मेरे कदम कदम पे साथ,
चलता है साँवरा,
हाथो में लेके हाथ,
हाथो में लेके हाथ,
चलता है साँवरा,
मेरे कदम कदम पें साथ,
चलता है साँवरा।।

तर्ज – की दम दा भरोसा यार।



जित हार सोचूँ ना मैं,

संग मेरा यार है,
हाल-ए-दिल जानता है,
सच्चा दिलदार है,
समझे मेरे दिल के बात,
समझे मेरे दिल के बात,
चलता है साँवरा,
मेरे कदम कदम पें साथ,
चलता है साँवरा।।



हारे का सहाई ये तो,

बिगड़ी बनाता है,
प्रेम को बढ़ाये जो भी,
उसका हो जाता है,
पूछे ना जाकर पार,
चलता है साँवरा,
मेरे कदम कदम पें साथ,
चलता है साँवरा।।



खेल है निराले उसके,

सारा जग जाने है,
‘रोमी’ ये तो भक्तो को,
खुब पहचाने है,
‘चोखानी’ संग दिन रात,
चलता है साँवरा,
मेरे कदम कदम पें साथ,
चलता है साँवरा।।



मेरे कदम कदम पे साथ,

चलता है साँवरा,
हाथो में लेके हाथ,
हाथो में लेके हाथ,
चलता है साँवरा,
मेरे कदम कदम पें साथ,
चलता है साँवरा।।

Singer : Romi Ji


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें