मेरा श्याम तू अकेला लाखों तेरे दीवाने भजन लिरिक्स

मेरा श्याम तू अकेला,
लाखों तेरे दीवाने,
जीवन में तू ही भरता,
खुशियों के बहाने,
मेरा श्याम तु अकेला,
लाखों तेरे दीवाने।।

तर्ज – मुझे इश्क़ है तुझी से।



रोने ना देता मुझको,

जब भी पुकारा तुझको,
दरबार में बुलाके,
खुशियां लुटाता मुझको,
देता है मुझको जब भी,
भर भर के ये खजाने,
जीवन में तू ही भरता,
खुशियों के बहाने,
मेरा श्याम तु अकेला,
लाखों तेरे दीवाने।।



दर्शन करे जो तेरा,

उसको मिले सहारा,
पापी भी बोले सबसे,
ऐ श्याम तू हमारा,
किरपा तेरी ना समझी,
कैसे करे फ़साने,
जीवन में तू ही भरता,
खुशियों के बहाने,
मेरा श्याम तु अकेला,
लाखों तेरे दीवाने।।



ना राह मेरी छोटी,

बस आस एक तेरी,
होने ना देना बाबा,
तुझसे अलग ये दुरी,
कहे ‘मोनू’ ये तुझी से,
लाखों तेरे दीवाने,
जीवन में तू ही भरता,
खुशियों के बहाने,
मेरा श्याम तु अकेला,
लाखों तेरे दीवाने।।



मेरा श्याम तू अकेला,

लाखों तेरे दीवाने,
जीवन में तू ही भरता,
खुशियों के बहाने,
मेरा श्याम तु अकेला,
लाखों तेरे दीवाने।।

Singer – Sanjay Soni


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें