कन्हैया है तेरी दरकार श्याम भजन लिरिक्स

कन्हैया है तेरी दरकार,

साँवरे मेरी कलाई,
थाम ले ईक बार,
कन्हेया है तेरी दरकार।।

तर्ज – कन्हैया ले चल परली पार।



जब जब मैं श्री श्याम पुकारा,

तब तब आपने दिया सहारा,
मोर छड़ी हांथों से घुमाकर,
खोल दिया किस्मत का ताला,
आजाओ प्रभु लिले चढ़कर,
साँवलिये सरकार,
कन्हेया है तेरी दरकार।।



आओ आओ श्याम हमारे,

व्याकुल मन ये तुम्हे पुकारें,
तूफानों ने नईया घेरी,
पार लगादो प्रभु किनारे,
आओ अब पतवार थामलो,
बनजा खेवनहार,
कन्हेया है तेरी दरकार।।



भूल हुई क्या हमें बताओ,

श्याम हमें अब ना तरसाओ,
‘मन्नू’ के मन की दीपक मे,
अपने प्रेम की ज्योत जगाओ,
ईब क्यू देर लगाई बाबा,
करदो बेडा़ पार,
कन्हेया है तेरी दरकार।।



साँवरे मेरी कलाई,

थाम ले ईक बार,
कन्हैया है तेरी दरकार,
कन्हैया है तेरी दरकार।।

गायक / अपलोड – मनीष शर्मा (मन्नू)
7903588275


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें