मंदिर सुना बिन जोती बालाजी हरयाणवी भजन लिरिक्स

मंदिर सुना बिन जोती,
माला र सुनी बिन मोती।।



बालाजी के प्यार बिना,

राम के दीदार बिना,
किसमत जागः ना सुनी,
माला सुनी बिन मोती,
मंदिर सुना बिन ज्योति,
माला र सुनी बिन मोती।।



राम मेरे हनुमान बिना,

सेवा श्रध्दा ज्ञान बिना,
पुरी इच्छा ना होती,
माला सुनी बिन मोती,
मंदिर सुना बिन ज्योति,
मंदिर सुना बिन ज्योति,
माला र सुनी बिन मोती।।



मेंहदीपुर के धाम बिना,

बालाजी के नाम बिना,
भक्ति चित ने ना मोहती,
माला सुनी बिन मोती,
मंदिर सुना बिन ज्योति,
मंदिर सुना बिन ज्योति,
माला र सुनी बिन मोती।।



सुना कमल जल खुसबु बिना,

दर्शन ना सही लो ए बिना,
जल बिन अंखियां ना रोती,
माला सुनी बिन मोती,
मंदिर सुना बिन ज्योति,
मंदिर सुना बिन ज्योति,
माला र सुनी बिन मोती।।



मंदिर सुना बिन जोती,

माला र सुनी बिन मोती।।

गायक – नरेन्द्र कौशिक।
भजन प्रेषक – राकेश कुमार जी,
खरक जाटान(रोहतक)
( 9992976579 )


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें