मैं जो जी रहा हूँ बाबा तेरी रहमतों का साया भजन लिरिक्स

मैं जो जी रहा हूँ बाबा,
तेरी रहमतों का साया।

दोहा – अगर बाबा तेरा सहारा ना होता,
तो सुंदर संसार हमारा ना होता,
तूफानों की तबाही में गुम हो जाते,
अगर सर पर हाथ बाबा तुम्हारा ना होता।

मैं जो जी रहा हूँ बाबा,
तेरी रहमतों का साया,
दर-दर भटक रहा था,
अब तेरी शरण हूँ आया।।

तर्ज – तेरी रहमतों का दरिया।



दुनिया के झूठे वादे,

दुनिया की झूठी कसमें,
माया में फंसाती ,
दुनिया की झूठी रस्मे,
अब सांच और झूठ में,
यह झूठ आगे आया,
दर-दर भटक रहा था,
अब तेरी शरण हूँ आया।।



क्यों बनाई हंसी दुनिया,

जिसमें ना कोई अपना,
दिखते हैं सभी अपने,
गर कोई नहीं अपना,
दुनिया बड़ी फरेबी,
अब जाकर समझ में आया,
दर-दर भटक रहा था,
अब तेरी शरण हूँ आया।।



कहीं देता बादशाह को,

भर भर के तू खजाने,
कोई रो रहा सड़क पर,
खाने को नहीं दाने,
तेरा हिसाब बाबा,
मुझको समझ ना आया,
दर-दर भटक रहा था,
अब तेरी शरण हूँ आया।।



तू हजार दे या लाखों,

नहीं लालसा अब कुछ भी,
चरणों की सेवा दे दे,
बस इच्छा बाबा इतनी,
तेरी ही दया से फैली,
तेरे जगत में माया,
दर-दर भटक रहा था,
अब तेरी शरण हूँ आया।।



भक्तों को मेरे बाबा,

अब और ना सताओ,
ले लो शरण में अपनी,
ललित सुमित को ना विसराओ,
सब हार के मेरे बाबा,
तेरे दर पर सर झुकाया,
दर-दर भटक रहा था,
अब तेरी शरण हूँ आया।।



मै जो जी रहा हूँ बाबा,

तेरी रहमतों का साया,
दर-दर भटक रहा था,
अब तेरी शरण हूँ आया।।

Singer / Upload – Pandit Lalit Sumit Maharaj
9165641301


इस भजन को शेयर करे:

सम्बंधित भजन भी देखें -

नगरी हो वृन्दावन सी गोकुल सा घराना हो लिरिक्स

नगरी हो वृन्दावन सी गोकुल सा घराना हो लिरिक्स

नगरी हो वृन्दावन सी, गोकुल सा घराना हो, चरण हो माधव के, जहाँ मेरा ठिकाना हो, माँ यशोदा सी मैया हो, दाऊ जैसा भैया हो, नन्द बाबा की सदा, मेरे…

दिल में है श्याम साँसों में श्याम भजन लिरिक्स

दिल में है श्याम साँसों में श्याम भजन लिरिक्स

दिल में है श्याम, साँसों में श्याम, तुझे मैं कैसे भुलाउं, पूजा करूँ या भजन करूँ, बोलो तुम्हे कैसे चाहूँ, बाबा मेरे बाबा, तुम हो मेरे सहारे।। तर्ज – दिल…

बंसी वाले कारे कृष्ण कन्हैया तेरी मैं दीवानी हो गई भजन लिरिक्स

बंसी वाले कारे कृष्ण कन्हैया तेरी मैं दीवानी हो गई भजन लिरिक्स

बंसी वाले कारे कृष्ण कन्हैया, तेरी मैं दीवानी हो गई, भूली सुद्बुध सांवरे बिहारी, भूली सुद्बुध सांवरे बिहारी, तेरी मैं दीवानी हो गई, बंसी वारे कारे कृष्ण कन्हैया, तेरी मैं…

सांवरी सुरतिया है मुख पे उजाला भजन लिरिक्स

सांवरी सुरतिया है मुख पे उजाला भजन लिरिक्स

सांवरी सुरतिया है, मुख पे उजाला, ऐसा अनोखा मेरा श्याम, खाटू वाला लीले वाला, जो भी आया चरणों में, उसको उबारा हो उबारा, ऐसा अनोखा मेरा श्याम, खाटू वाला लीले…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे