प्रथम पेज दुर्गा माँ भजन मात भवानी अम्बे माँ मेरी नैया भवर में है भजन लिरिक्स

मात भवानी अम्बे माँ मेरी नैया भवर में है भजन लिरिक्स

मात भवानी अम्बे माँ,
मेरी नैया भवर में है आ,
तू संकट हर ले माँ,
मात भवानी अम्बे रानी।।

तर्ज – ढफली वाले।



जब भी चला कोई लेके सफीना,

तूफा से वो लड़ता जाए,
नाम तेरा माँ रटते रटते,
भव सागर तर जाए,
जब डूबेगी नैया तू आ जाना मैया,
ये गहरा है सागर का पानी।
मात भवानी अम्बे मां,
मेरी नैया भवर में है आ,
तू संकट हर ले माँ,
मात भवानी अम्बे रानी।।



आए मुसीबत मुझ पर अगर माँ,

पलभर में वो लौट जाए,
तेरे चरणों में ये सर झुकाऊं,
जीवन सफल हो जाए,
मैं दिल से पुकारू माँ अर्ज गुजारु,
अब पार करो कल्याणी।
मात भवानी अम्बे मां,
मेरी नैया भवर में है आ,
तू संकट हर ले माँ,
मात भवानी अम्बे रानी।।



है ये तमन्ना ओ अम्बे मैया,

तेरा करम हो जाए,
शीतल हो जाए तन मन दोनों,
पावन ये घर हो जाए,
ये नजरे है प्यासी है विनती जरासी,
मेरे घर भी मैया तू आना।
मात भवानी अम्बे मां,
मेरी नैया भवर में है आ,
तू संकट हर ले माँ,
मात भवानी अम्बे रानी।।



मात भवानी अम्बे माँ,

मेरी नैया भवर में है आ,
तू संकट हर ले माँ,
मात भवानी अम्बे रानी।।

Singer – Chetna


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।