कोए दे स बोल मन्नै री जब आधी रात ढले काली

कोए दे स बोल मन्नै री,
जब आधी रात ढले काली।।



मेरे ना की घाल घालदी,

अंबर में आग बालदी,
तेरा ले क नाम चालती,
या क्युकर ढली ढले काली,
कोई दे स बोल मन्नै री,
जब आधी रात ढले काली।।



एक बलः गगन में हांडी,

सेवड़े ने चिती मांडी,
महारः खड़ी बगड़ में जांडी,
उकी फुंगल आप जले काली,
कोई दे स बोल मन्नै री,
जब आधी रात ढले काली।।



मन्नै ढाई घड़ी सं टाली,

इब आगे तुहे रूखाली,
दया करीयो खपर आली,
या दुनिया हाथ मले काली,
कोई दे स बोल मन्नै री,
जब आधी रात ढले काली।।



अशोक भक्त में खेली,

तन्नै दया राज की ले ली,
या रामभजन की चैली,
तेरा लावण भोग चले काली,
कोई दे स बोल मन्नै री,
जब आधी रात ढले काली।।



कोए दे स बोल मन्नै री,

जब आधी रात ढले काली।।

गायक – नरेंद्र कौशिक जी।
राकेश कुमार जी।
खरक जाटान (रोहतक)
9992976579


इस भजन को शेयर करे:

सम्बंधित भजन भी देखें -

मैं के बोलूं मईया री तन्नै सब बातां का बैरा स लिरिक्स

मैं के बोलूं मईया री तन्नै सब बातां का बैरा स लिरिक्स

मैं के बोलूं मईया री, तन्नै सब बातां का बैरा स, पिछली साल घणे तारे, पर इबके नम्बर मेरा स।। तुं चहावः त फुटी, तकदीर समरज्या पल भर में, तुं…

दुखिया को देता है सहारा ये पक्के पुल वाला

दुखिया को देता है सहारा ये पक्के पुल वाला

दुखिया को देता है सहारा, ये पक्के पुल वाला।। तेरे नूर से जगती है ज्योति, जागै किस्मत सबकी सोती, करता नहीं है किनारा, ये पक्के पुल वाला, दुखियो को देता…

आँगली मरोड़ी मेरा छल्ला तोड़ा री यशोदा तेरे लाल ने

आँगली मरोड़ी मेरा छल्ला तोड़ा री यशोदा तेरे लाल ने

आँगली मरोड़ी मेरा छल्ला तोड़ा री, यशोदा तेरे लाल ने, यशोदा तेरे लाल ने, यशोदा तेरे लाल ने, आंगली मरोड़ी मेरा छल्ला तोड़ा री, यशोदा तेरे लाल ने।। नदिया किनारे…

हाए हैलो छोडो बोलो सारे राम राम बालाजी भजन लिरिक्स

हाए हैलो छोडो बोलो सारे राम राम बालाजी भजन लिरिक्स

हाए हैलो छोडो, बोलो सारे राम राम, बालाजी करेंगे थारे, सारे सिध्द काम।। राम नाम लिखणे तं, पत्थर भी तिरे थे आप, बाल्मीकि पार हुए, राम का करया था जाप,…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

1 thought on “कोए दे स बोल मन्नै री जब आधी रात ढले काली”

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे