खाटू में जाके श्याम को अपना बना लिया भजन लिरिक्स

आँखों में श्याम नाम का,
सपना सजा लिया,
खाटू में जाके श्याम को,
अपना बना लिया।।

तर्ज – वृन्दावन जाउंगी सखी।



महसूस जब कमी हुई,

अपनों के प्यार की,
चरणों में शीश के दानी के,
सर को झुका लिया,
आँखो में श्याम नाम का,
सपना सजा लिया,
खाटु में जाके श्याम को,
अपना बना लिया।।



मुश्किल भरी थी ज़िन्दगी,

आसान तब हुई,
मेरी राहें कठिन थी श्याम को,
साथी बना लिया,
आँखो में श्याम नाम का,
सपना सजा लिया,
खाटु में जाके श्याम को,
अपना बना लिया।।



भटकेगा कैसे दिल मेरा,

दुनिया की भीड़ में,
‘आयुष’ ने खाटू वाले को,
दिल में बसा लिया,
आँखो में श्याम नाम का,
सपना सजा लिया,
खाटु में जाके श्याम को,
अपना बना लिया।।



आँखों में श्याम नाम का,

सपना सजा लिया,
खाटू में जाके श्याम को,
अपना बना लिया।।

Singer – Ayush Mali