कर्जा तुम्हारा साँवरे उतारना नहीं भजन लिरिक्स

कर्जा तुम्हारा साँवरे,
उतारना नहीं,
बिन आपके ये जीवन,
गुजारना नहीं,
बिन आपके ये जीवन,
गुजारना नहीं।bd।
karja tumhara sanware utarna nahi lyrics
तर्ज – अहसान मेरे दिल पे।

देखे – तेरा कैसे कर्ज चुकाऊं।



तेरी ही कैद में मुझे,

रहना है सांवरे,
गम दे या ख़ुशी दे,
यही रहना है सांवरे,
कैसी रहेगी जिंदगी,
विचारना नहीं,
बिन आपके ये जीवन,
गुजारना नहीं,
बिन आपके ये जीवन,
गुजारना नहीं।bd।



कर्जा उतारकर के,

जो आजाद हो गया,
हमने नहीं सुना की,
वो आबाद हो गया,
तेरे सिवा किसी को,
निहारना नहीं,
बिन आपके ये जीवन,
गुजारना नहीं,
बिन आपके ये जीवन,
गुजारना नहीं।bd।



कर्जा नहीं करना,

तू कभी माफ़ सांवरे,
कुछ कर्जदार भी है,
तेरे ख़ास सांवरे,
चरणों में पड़ा रहना दो,
दुत्कारना नहीं,
बिन आपके ये जीवन,
गुजारना नहीं,
बिन आपके ये जीवन,
गुजारना नहीं।bd।



तकाजा करना मुझसे,

कभी छोड़ना नहीं,
मिलेंगे इसी बहाने से,
दिल तोडना नहीं,
‘पप्पू शर्मा’ अहम को कभी,
उभारना नहीं,
Bhajan Diary Lyrics,
बिन आपके ये जीवन,
गुजारना नहीं,
बिन आपके ये जीवन,
गुजारना नहीं।bd।



कर्जा तुम्हारा साँवरे,

उतारना नहीं,
बिन आपके ये जीवन,
गुजारना नहीं,
बिन आपके ये जीवन,
गुजारना नहीं।bd।

Singer – Pappu Sharma Khatu Wale


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें