करती हूँ तुम्हारा व्रत मैं हिंदी लिरिक्स

करती हूँ तुम्हारा व्रत मैं,
स्वीकार करो माँ,
मझधार में मैं अटकी,
बेडा पार करो माँ,
बेडा पार करो माँ,
हे माँ संतोषी,माँ संतोषी॥



बैठी हूँ बड़ी आशा से,

तुम्हारे दरबार में,
क्यूँ रोये तुम्हारी बेटी,
इस निर्दयी संसार में,
पलटा दो मेरी भी किस्मत,
पलटा दो मेरी भी किस्मत,
चमत्कार करो माँ,
मझधार में मैं अटकी,
बेडा पार करो माँ॥



मेरे लिए तो बंद है,

दुनिया की सब राहें,
कल्याण मेरा हो सकता है,
माँ आप जो चाहें,
चिंता की आग से मेरा,
चिंता की आग से मेरा,
उद्धार करो माँ,
मझधार में मैं अटकी,
बेडा पार करो माँ॥



दुर्भाग्य की दीवार को तुम,

आज हटा दो,
मातेश्वरी वापिस मेरे,
सौभाग्य को ला दो,
इस अभागिनी नारी से,
इस अभागिनी नारी से,
कुछ प्यार करो माँ,
मझधार में मैं अटकी,
बेडा पार करो माँ॥



करती हूँ तुम्हारा व्रत मैं,

स्वीकार करो माँ,
मझधार में मैं अटकी,
बेडा पार करो माँ,
बेडा पार करो माँ,
हे माँ संतोषी,माँ संतोषी॥


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

जीवन दिया जो आपने उपकार साँवरे लिरिक्स

जीवन दिया जो आपने उपकार साँवरे लिरिक्स

जीवन दिया जो आपने, उपकार साँवरे, तेरी दया से पल रहा, परिवार साँवरे, जीवन दिया जों आपने, उपकार साँवरे।। तर्ज – मिलती है जिंदगी में। तेरा ये शुक्रिया प्रभु, कैसे…

भले कुछ और मुझे तू देना ना देना भजन लिरिक्स

भले कुछ और मुझे तू देना ना देना भजन लिरिक्स

भले कुछ और मुझे, तू देना ना देना, मगर इतनी किरपा, श्याम मुझ पे करना, खर्चा मैं घर का चलाता रहूँ, जब तू मुझे बुलाए खाटू आता रहूँ, भलें कुछ…

हसा के क्यों रुलाए रे रुलाए रे कन्हैया भजन लिरिक्स

हसा के क्यों रुलाए रे रुलाए रे कन्हैया भजन लिरिक्स

हसा के क्यों रुलाए रे, रुलाए रे कन्हैया, ठाकुर मेरे ओ ठाकुर मेरे, ठाकुर मेरे ओ ठाकुर मेरे।। तर्ज – बना के क्यों बिगाड़ा रे। रोके रुके ना आँख के…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे