काली घटायें हमको सताए श्याम भजन लिरिक्स

काली घटायें हमको सताए,
बदलते ये मौसम,
बदलते ये मौसम बाबा,
पलकें झुकाएं,
काली घटाए हमको सताए,
काली घटाए हमको सताए।।

तर्ज – बहुत प्यार करते है।



छाएं अँधेरा तो तेरा ही सहारा,

कितनो की बदली किस्मत,
जो भी आया हारा,
दिल के अरमा मचले,
दिल के अरमा मचले,
मन राग गाए,
काली घटाए हमको सताए,
काली घटाए हमको सताए।।



दूर निगाहें तुमसे खड़ा मैं निहारूं,

सोच में डूबा श्याम कैसे अब पुकारूँ,
तू ही बना दे हिम्मत,
तू ही बना दे हिम्मत,
नज़र मिलाएं,
काली घटाए हमको सताए,
काली घटाए हमको सताए।।



लौटा दो तुम मेरी खुशियां वो सारी,

झोली फैलाएं खड़ा खाली जो हमारी,
समय की ये चाल ऐसी,
समय की ये चाल ऐसी,
मान भी जाए,
काली घटाए हमको सताए,
काली घटाए हमको सताए।।



चौखट के तेरी श्याम भूला का रस्ते,

अंजान मैं क्या तुम नहीं बसते,
‘सज्जन’ मिटा दे अँधेरे,
‘सज्जन’ मिटा दे अँधेरे,
सदा मुस्कुराए,
काली घटाए हमको सताए,
काली घटाए हमको सताए।।



काली घटायें हमको सताए,

बदलते ये मौसम,
बदलते ये मौसम बाबा,
पलकें झुकाएं,
काली घटाए हमको सताए,
काली घटाए हमको सताए।।

Singer – Maan Kaur


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें