जो बोएगा वही पाएगा तेरा किया आगे आएगा लिरिक्स

जो बोएगा वही पाएगा,
तेरा किया आगे आएगा,
सुख दुख है क्या फल कर्मो का,
जैसी करनी वैसी भरनी,
जैसी करनी वैसी भरनी।।



सबसे बड़ी पूजा है,

मात पिता की सेवा,
किस्मत वालो को ही,
मिलता है ये मौका,
हाथ से अपने खो मत देना,
मौका ये खिदमत का,
जन्नत का दर खुल जाएगा,
तेरा किया आगे आएगा,
सुख दुख है क्या फल कर्मो का,
जैसी करनी वैसी भरनी,
जैसी करनी वैसी भरनी।।



चाहे ना पूजे मूरत,

चाहे ना तीरथ जाए,
मात पिता के तन में,
सारे देव समाए,
तू इनका दिल खुश रखे तो,
ईश्वर खुश हो जाए,
भगवान तुझको मिल जाएगा,
तेरा किया आगे आएगा,
सुख दुख है क्या फल कर्मो का,
जैसी करनी वैसी भरनी,
जैसी करनी वैसी भरनी।।



जो बोएगा वही पाएगा,

तेरा किया आगे आएगा,
सुख दुख है क्या फल कर्मो का,
जैसी करनी वैसी भरनी,
जैसी करनी वैसी भरनी।।

गायक – नितिन मुकेश जी।
प्रेषक – रुपचंद जी।
9057152994