ओम जय शिव ओंकारा हर हर शिव ओंकारा लिरिक्स

ओम जय शिव ओंकारा,
हर हर शिव ओंकारा,
गंगा जटा समाए आपके,
जिसने जग तारा।।



जय भयहारक पातक तारक,

जय जय अविनाशी,
जय महेश जय आदिदेव,
जय जय कैलाशी,
कृपा आपकी से मिटता है,
मन का अंधियारा।।



जय त्रिपुरारी जय मदहारी,

भक्तन हितकारी,
जय डमरुधर जय नागेश्वर,
भोले भंडारी,
मेरी बड़ी भूल को प्रभु ने,
पल में निस्तारा।।



जो शिव को नाहीं समझे,

वह बड़ा है अज्ञानी,
पग पग पर वह ठोकर खाता,
ऐसा अभिमानी,
शिव कृपा से जगमग करता,
है यह जग सारा।।



ओम जय शिव ओंकारा,

हर हर शिव ओंकारा,
गंगा जटा समाए आपके,
जिसने जग तारा।।

गायक – सुरेश वाडेकर जी।
लेखक / प्रेषक – एन.आर नीलकंठ।
7738294599


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

मेरे भोले की बारात में ढोल नगाड़े बाजे शिव भजन

मेरे भोले की बारात में ढोल नगाड़े बाजे शिव भजन

मेरे भोले की बारात में, ढोल नगाड़े बाजे, भांग धतूरा पीकर भोले, चले है ब्याह रचाने, मेरे भोले की बारात में, ढोल नगाड़े बाजे।। सर्पो की माला है गले में,…

उज्जैन के महाराज हो दीनो के दीनानाथ हो लिरिक्स

उज्जैन के महाराज हो दीनो के दीनानाथ हो लिरिक्स

उज्जैन के महाराज हो, दीनो के दीनानाथ हो, तुम कालों के काल हो, बाबा महाकाल हो।। दरबार में भोले के देखो, झूम झुम जयकार लगे, झूम झुम जयकार लगे, भंग…

महाकाल बाबा क्षिप्रा किनारे तुम्हे जल चढ़ाये सवेरे सवेरे

महाकाल बाबा क्षिप्रा किनारे तुम्हे जल चढ़ाये सवेरे सवेरे

महाकाल बाबा क्षिप्रा किनारे, तुम्हे जल चढ़ाये सवेरे सवेरे, इनकी आरती में जरा चल के देखो, भस्मी रमाये सवेरे सवेरे।। तर्ज – अरे द्वारपालों। सभी तीर्थो में क्षिप्रा बड़ी है,…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे