जल चढाने से सब काम होता है शिव भजन लिरिक्स

जल चढाने से सब काम होता है शिव भजन लिरिक्स

जल चढाने से,
सब काम होता है,
महादेव को खुश करना,
आसान होता है।।

तर्ज – सिंदूर चढाने से।



महादेव के जैसा,

कोई देव ना दूजा,
शहर नगर हर गांव में,
होती है पूजा,
शमशान की भस्मी से,
श्रंगार होता है,
जल चढ़ाने से,
सब काम होता है,
महादेव को खुश करना,
आसान होता है।।



आक धतूरा भंग,

इनको है प्यारा,
बाटे ये अमृत,
पीते विष प्याला,
तन पर बाघम्बर ही,
दिन रात होता है,
जल चढ़ाने से,
सब काम होता है,
महादेव को खुश करना,
आसान होता है।।



राम कृपा चाहो,

गुण गाओ शिवजी का,
शिव की पूजा से,
श्रीराम है मिलता,
जो हे शिव का द्रोही,
राम से दूर होता है,
जल चढ़ाने से,
सब काम होता है,
महादेव को खुश करना,
आसान होता है।।



अवतार लिये शंकर,

हनुमान बन आये,
जो कोई कर ना पाया,
वो काम कर पाये,
श्रीराम की कृपा से,
अमर हनुमान होता है,
जल चढ़ाने से,
सब काम होता है,
महादेव को खुश करना,
आसान होता है।।



‘रामधुन मण्डल’ पर,

कृपा करें शंकर,
मिले राम की भगति,
ना दूर हो डगर,
गुणगान करो सब शिव का,
उद्धार होता है,
जल चढ़ाने से,
सब काम होता है,
महादेव को खुश करना,
आसान होता है।।



जल चढाने से,

सब काम होता है,
महादेव को खुश करना,
आसान होता है।।

प्रेषक – प्रीतम चन्द्र शर्मा
9414349634

विडियो उपलब्ध नहीं है।


 

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें