हनुमत ढूंढ रहे किसी ने मेरे राम देखे भजन लिरिक्स

हनुमत ढूंढ रहे किसी ने मेरे राम देखे भजन लिरिक्स

हनुमत ढूंढ रहे,
किसी ने मेरे राम देखे,
बजरंग पूछ रहे,
किसी ने मेरे राम देखे,
राम देखे भगवान देखे,
राम देखे भगवान देखे,
वन को जाते हुए,
किसी ने प्रभु राम देखे।।

तर्ज – राधा ढूंढ रही किसी ने।



हनुमत तेरे राम,

विश्वामित्र संग देखे,
ताड़का को मारते हुए,
हनुमान तेरे राम देखे,
हनुमत ढूंढ़ रहे,
किसी ने मेरे राम देखे।।



हनुमत तेरे राम मैंने,

केवट संग देखे,
नैया में बैठे हुए,
हनुमान तेरे राम देखे,
हनुमत ढूंढ़ रहे,
किसी ने मेरे राम देखे।।



हनुमत तेरे राम,

चित्रकूट पे बैठे,
तिलक लगाते हुए,
हनुमान तेरे राम देखे,
हनुमत ढूंढ़ रहे,
किसी ने मेरे राम देखे।।



हनुमत तेरे राम मैंने,

शबरी घर देखे,
मीठे बैर खाते हुए,
हनुमान तेरे राम देखे,
हनुमत ढूंढ़ रहे,
किसी ने मेरे राम देखे।।



हनुमत तेरे राम,

रणभूमि में देखे,
तीर चलाते हुए,
हनुमान तेरे राम देखे,
हनुमत ढूंढ़ रहे,
किसी ने मेरे राम देखे।।



हनुमत ढूंढ रहे,

किसी ने मेरे राम देखे,
बजरंग पूछ रहे,
किसी ने मेरे राम देखे,
राम देखे भगवान देखे,
राम देखे भगवान देखे,
वन को जाते हुए,
किसी ने प्रभु राम देखे।।


2 टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें