फागण आयो है रंगीलो रंग डारो श्याम जी भजन लिरिक्स

फागण आयो है रंगीलो,
रंग डारो श्याम जी,
रंग डारो श्याम जी,
सारे भगता के भाग,
सवारों श्याम जी,
सारे भगता के भाग,
सवारों श्याम जी।।

तर्ज – मीठे रस से भरियो री।



हरे गुलाबी नीले पिले,

सारे रंग लगा द्यो,
कोई छुड़ावे छूटे ना फिर,
ऐसे रंग चढ़ा द्यो,
जीवन हो जावे रंगीलो,
जीवन हो जावे रंगीलो,
जो हमारो श्याम जी,
जो हमारो श्याम जी,
सारे भगता के भाग,
सवारों श्याम जी,
सारे भगता के भाग,
सवारों श्याम जी।।



माथे लग्यो गुलाल श्याम का,

आज म्हणे नाचण द्यो,
ढोल मंजीरे शंख खंजरी,
चिमटे ने बाजण द्यो,
ऐसी मस्ती ने चढ़ा द्यो,
ना उतारो श्याम जी,
ना उतारो श्याम जी,
सारे भगता के भाग,
सवारों श्याम जी,
सारे भगता के भाग,
सवारों श्याम जी।।



फागण की होली की मस्ती,

देखे दुनिया सारी,
श्याम धणी के खाटु में तो,
धूम मची है भारी,
यो तो भक्ता ने रिझावे,
यो तो भक्ता ने रिझावे,
मतवारो श्याम जी,
मतवारो श्याम जी,
सारे भगता के भाग,
सवारों श्याम जी,
सारे भगता के भाग,
सवारों श्याम जी।।



रंग भक्ति को मन पे चढ़ जा,

और भला के चाहूँ,
म्हारी भी तक़दीर संवर जा,
और भला के चाहूँ,
म्हारो हो जावे दीवानो,
दिल थारो श्याम जी,
दिल थारो श्याम जी,
सारे भगता के भाग,
सवारों श्याम जी,
सारे भगता के भाग,
सवारों श्याम जी।।



फागण आयो है रंगीलो,

रंग डारो श्याम जी,
रंग डारो श्याम जी,
सारे भगता के भाग,
सवारों श्याम जी,
सारे भगता के भाग,
सवारों श्याम जी।।

Singer : Neha Aggarwal


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें