दर्श करा दे मेरे सांवरे म्हारे नैना हुए बावरे भजन लिरिक्स

दर्श करा दे मेरे सांवरे,
म्हारे नैना हुए बावरे,
थारा कुछ भी ना लगे,
थारे बिन जी ना लगे,
दर्श करा दे मेरे साँवरे,
म्हारे नैना हुए बावरे।।



म्हारी हालत बस तू ही जाने,

रो रो गुज़ारू दिल ना माने,
कैसे जियुं श्याम मेरे सांवरे,
थारा कुछ भी ना लगे,
थारे बिन जी ना लगे,
दर्श करा दे मेरे साँवरे,
म्हारे नैना हुए बावरे।।



एक बस तू ही दिखे मुझको,

दिल की सुनाउँ मैं किसको,
धीर बंधाओ श्याम मेरे सांवरे,
थारा कुछ भी ना लगे,
थारे बिन जी ना लगे,
दर्श करा दे मेरे साँवरे,
म्हारे नैना हुए बावरे।।



मेरा भरोसा बस एक तू,

दिल में श्याम एक बस तू,
पीर मिटाओ श्याम मेरे सांवरे,
थारा कुछ भी ना लगे,
थारे बिन जी ना लगे,
दर्श करा दे मेरे साँवरे,
म्हारे नैना हुए बावरे।।



प्रेम का डोरी से तूने बाँधा,

‘दीपक’ श्याम से जन्मों का नाता,
दर्श दिखाओ श्याम मेरे सांवरे,
थारा कुछ भी ना लगे,
थारे बिन जी ना लगे,
दर्श करा दे मेरे साँवरे,
म्हारे नैना हुए बावरे।।



दर्श करा दे मेरे सांवरे,

म्हारे नैना हुए बावरे,
थारा कुछ भी ना लगे,
थारे बिन जी ना लगे,
दर्श करा दे मेरे साँवरे,
म्हारे नैना हुए बावरे।।

गायक / प्रेषक – कुंवर दीपक।
8700018045


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें