बिन श्याम दरस के चैन मुझे आता नहीं है भजन लिरिक्स

बिन श्याम दरस के चैन,
मुझे आता नहीं है,
मुझे श्याम के जैसा और,
कोई भाता नहीं है,
वही मेरा श्याम मेरी ज़िन्दगी है,
बिन श्याम दरश के चैन,
मुझे आता नहीं है।।

तर्ज – तुझे ना देखूं तो चैन।



मेरा तन मन धन अर्पण है,

सांवरे सलोने को समर्पण है,
चाहे जो ज़मान मुझे श्याम कहे,
होंठो पे मेरे तो तेरा नाम रहे,
तेरा नाम रहे,
रोते है दीवाने नैन,
सहा जाता नहीं है,
मुझे श्याम के जैसा और,
कोई भाता नहीं है,
वही मेरा श्याम मेरी ज़िन्दगी है,
बिन श्याम दरश के चैन,
मुझे आता नहीं है।।



सांवरा सलोना मेरे साथ रहे,

श्याम का हमेशा सर हाथ रहे,
चरणों की पुजारन सुबह शाम रहूँ,
मुख से हमेशा श्री श्याम कहूँ,
श्री श्याम कहूँ,
झूठी दुनिया से तो,
मेरा नाता नहीं है,
मुझे श्याम के जैसा और,
कोई भाता नहीं है,
वही मेरा श्याम मेरी ज़िन्दगी है,
बिन श्याम दरश के चैन,
मुझे आता नहीं है।।



सांसों की जपी जो मैंने माला है,

माला में बसाया मुरलीवाला है,
सारी दुनिया ने तो किनारा किया,
हारे के सहारे ने सहारा दिया,
हाँ सहारा दिया,
‘रज्जो’ भी गीत ऐसा,
कोई गाता नहीं है,
मुझे श्याम के जैसा और,
कोई भाता नहीं है,
Bhajan Diary Lyrics,

वही मेरा श्याम मेरी ज़िन्दगी है,
बिन श्याम दरश के चैन,
मुझे आता नहीं है।।



बिन श्याम दरस के चैन,

मुझे आता नहीं है,
मुझे श्याम के जैसा और,
कोई भाता नहीं है,
वही मेरा श्याम मेरी ज़िन्दगी है,
बिन श्याम दरश के चैन,
मुझे आता नहीं है।।

Singer – Shobha Gupta


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें