भक्ति कर ईश्वर कि भाई देसी भजन लिरिक्स

भक्ति कर ईश्वर कि भाई,
भक्ति करो तो भेद मत राखो,
भेला रमेला गघुराई,
भक्ति कर ईंश्वर कि भाई।।



भक्ति किनी मीरा बाई ने,

गढ़ चितौड़ के माय,
विश का प्याला राणो भेजिया,
जद अमरत हो जाई,
भक्ति कर ईंश्वर कि भाई।।



भक्ति किनी रूपा बाई ने,

गढ़ मेवा के माई,
हाथ खडक रावल माल दे कोपिया,
बाग लगायो थाली माई,
भक्ति कर ईंश्वर कि भाई।।



भक्ति किनी मोरध्वज राजा,

संत दुवारै आयै,
रतन कंवर को चीर गिराया,
जरा दिया नही आई,
भक्ति कर ईंश्वर कि भाई।।



लाधू पदम जी सतगुरु मिलया,

साची सेन बताई,
गुर्जर गरीब कनीराम,
गावै गोरखिया माई,
भक्ति कर ईंश्वर कि भाई।।



भक्ति कर ईश्वर कि भाई,

भक्ति करो तो भेद मत राखो,
भेला रमेला गघुराई,
भक्ति कर ईंश्वर कि भाई।।

गायक / प्रेषक – मनोहर परसोया।


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

पीपासर रा राज बीरा जग में परचा भारी भजन लिरिक्स

पीपासर रा राज बीरा जग में परचा भारी भजन लिरिक्स

पीपासर रा राज बीरा, जग में परचा भारी। दोहा – समराथल सो थल नहीं, मंदिर जेड़ा मुकाम, जांभोलाव सो सरवर नहीं, जहाँ सन्त करे विश्राम। पीपासर रा राज बीरा, जग…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे