बड़ी देर भई मेरे बाला भजन लिरिक्स

बड़ी देर भई मेरे बाला,
तुम कहाँ हो अंजनी लाला,
अपने दरश करा दो,
तेरो रूप बड़ो मतवाला,
बडी देर भई मेरे बाला,
तुम कहाँ हो अंजनी लाला।।

तर्ज – बड़ी देर भई नंदलाला।



भक्त तुम्हारे बाला देखो,

कब से राह निहारे है,
चाँद भी बैठा आँखे खोले,
इंतजार में तारे है,
कीर्तन की इस रात मे तेरे,
नाम की फेरे माला,
बडी देर भई मेरे बाला,
तुम कहाँ हो अंजनी लाला।।



बाला तुम्हारे नाम की ज्योति,

सब ने मन में जगाई है,
बड़ो नसीबों से मेरे बाला,
रात ये पावन आई है,
प्यास बुझा दो नैनो की,
हमें क्यों दुविधा में डाला है,
बडी देर भई मेरे बाला,
तुम कहाँ हो अंजनी लाला।।



बड़ी देर भई मेरे बाला,

तुम कहाँ हो अंजनी लाला,
अपने दरश करा दो,
तेरो रूप बड़ो मतवाला,
बडी देर भई मेरे बाला,
तुम कहाँ हो अंजनी लाला।।

Singer : Kumar Vishu


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें