बधैया बाजे आँगने में श्रीराम जन्म भजन लिरिक्स

बधैया बाजे आँगने में,
बधैया बाजे आँगने मे।।



चंद्रमुखी मृगनयनी अवध की,

तोड़त ताने रागने में,
बधैया बाजे आँगने मे।।



प्रेम भरी प्रमदागन नाचे,

नूपुर बाँधे पायने में,
बधैया बाजे आँगने मे।।



न्योछावर श्री राम लला जु,

नहिं कोऊ लाजत माँगने में,
बधैया बाजे आँगने मे।।



सियाअली यह कौतुक देखत,

बीती रजनी जागने में,
बधैया बाजे आँगने मे।।



बधैया बाजे आँगने में,

बधैया बाजे आँगने मे।।

स्वर – मैथिलि ठाकुर।


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें