अपना जीवन सफल बनाये सब मिल राम नाम गुण गाय

अपना जीवन सफल बनाये सब मिल राम नाम गुण गाय

अपना जीवन सफल बनाये,
सब मिल राम नाम गुण गाय,
राम रामाय नमः राम रामाय नमः।।

तर्ज – तेरा पल पल बीता जाये।



अहिल्या थी श्राप की मारी,

राम चरण की थी अभिलाषी,
मुक्ति श्राप की हो जाये,
सब मिल राम नाम गुण गाय,
राम रामाय नमः राम रामाय नमः।।



केवट प्रेम से हट कर लीन्हा,

पार उतारा कछु नहीं लीन्हा,
वो चरणों का अमृत पाये,
सब मिल राम नाम गुण गाय,
राम रामाय नमः राम रामाय नमः।।



राम मिलन की आस लगाये,

शबरी बैठी पलक बिछाये,
प्रेम से झूठे बेर खिलाये,
सब मिल राम नाम गुण गाय,
राम रामाय नमः राम रामाय नमः।।



राम नाम विभिषण गाया,

हनुमान के मन को भाया,
फिर तो राम से दिया मिलाय,
सब मिल राम नाम गुण गाय,
राम रामाय नमः राम रामाय नमः।।



अन्त समय रावण का आया,

प्रभु राम का ध्यान लगाया,
वो मुक्ति का किया उपाय,
सब मिल राम नाम गुण गाय,
राम रामाय नमः राम रामाय नमः।।



राम नाम को प्रेम से बोलो,

अपने पापों को तुम धोलो,
यह भवसागर पार कराये,
सब मिल राम नाम गुण गाय,
राम रामाय नमः राम रामाय नमः।।



रामधुन मण्डल गुण गाया,

सब भगतों के मन को भाया,
राम की धुन में ही रम जायें,
सब मिल राम नाम गुण गाय,
राम रामाय नमः राम रामाय नमः।।



अपना जीवन सफल बनाये,

सब मिल राम नाम गुण गाय,
राम रामाय नमः राम रामाय नमः।।

प्रेषक – प्रीतम चन्द्र शर्मा
9414349634

वीडियो उपलब्ध नहीं है।


 

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें