अब तो सुन ले कि आ गया दर पे तुम्हारे ओ श्याम बाबा

अब तो सुन ले कि आ गया,
दर पे तुम्हारे,
ओ श्याम बाबा श्याम प्यारे,
अब कर दे करम,
हारे के सहारे,
ओ मैं भी आया हूं देखो,
झोली पसारे,
ओ श्याम बाबा श्याम प्यारे।।

तर्ज – तू भी आजा कि आ गई।



सहनी है कब तक यूं,

जग की भी बातें,
कटते ना दिन अब ये,
कटती ना रातें,
ओ जीना मुश्किल हुआ यहां,
ना तू विचारे,
ओ श्याम बाबा श्याम प्यारे।।



किसको सुनाऊं अब मैं,

अपनी कहानी,
दर पे है तेरे मेरी,
आंखों में पानी,
ओ ‘जालान’ गर्दिश में आज,
तुमको पुकारे,
ओ श्याम बाबा श्याम प्यारे।।



अब तो सुन ले कि आ गया,

दर पे तुम्हारे,
ओ श्याम बाबा श्याम प्यारे,
अब कर दे करम,
हारे के सहारे,
ओ मैं भी आया हूं देखो,
झोली पसारे,
ओ श्याम बाबा श्याम प्यारे।।

गायक – प्रवीण कुमार ‘पिंटू’
लेखक – पवन जालान जी।
9416059499 भिवानी (हरियाणा)


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें