प्रथम पेज कृष्ण भजन तुम्ही आसरा हो तुम्ही हो सहारा भजन लिरिक्स

तुम्ही आसरा हो तुम्ही हो सहारा भजन लिरिक्स

तुम्ही आसरा हो तुम्ही हो सहारा,
तूफा में कश्ती तुम्ही हो किनारा,
दुनियाँ के रिश्ते हुए आज खारिज,
रोकर के मैंने तुम्हे अब पुकारा,
रोकर के मैंने तुम्हे अब पुकारा।।

तर्ज – राम तेरी गंगा मैली हो गई।



द्रोपदी पुकारी हो द्रोपदी पुकारी,

भैया आजा मुरारी रोते रोते,
खेंच कर उघाड़ी साड़ी कर रहे,
तेरे कन्हैया होते होते,
आजा मोहन आजा मोहन,
आजा मोहन आजा मोहन।।



वाह रे विधाता कौन से दिन ये,

आज मुझे दिखलाए,
पाँचो पति मेरे बलधारी,
खड़े है नार झुकाए,
कुछ समझ ना आए,
लाज तू ही अब बचाए,
मैं हू शरण में तेरी,
लाज तेरी ही जाए,
करती दुहाई, करती दुहाई कान्हा,
असुअन से मुहं धोते धोते,
खेंच कर उघाड़ी साड़ी कर रहे,
तेरे कन्हैया होते होते,
आजा मोहन आजा मोहन,
आजा मोहन आजा मोहन।।



पुत्र मोह में ससुर हमारे,

आँखो में परदा चढ़ाए,
भाभी माँ की दाखिल होती,
कौन इन्हे समझाए,
कौन अपना पराया,
अपनो ने ही फसाया,
और रिश्ते हुए बेघर,
खेल ऐसा है रचाया,
जाग जा मुरारी, जाग जा मुरारी केशव,
रह तू ना जाना सोते सोते,
खेंच कर उघाड़ी साड़ी कर रहे,
तेरे कन्हैया होते होते,
आजा मोहन आजा मोहन,
आजा मोहन आजा मोहन।।



दोनो हाथ उठा कर बोली,

सुनले बंसी वाले,
तन मन की अब नैया मैने,
कर दी तेरे हवाले,
मेरी सुनले मुरली वाले,
दुनिया देगी अब कसाले,
लाज मेरी लूट रही है,
लाज आके तू बचाले,
प्रकटे मुरारी, प्रकटे मुरारी लाज,
जाने ना दूँगा खोते खोते,
खेंच कर उघाड़ी साड़ी कर रहे,
तेरे कन्हैया होते होते,
आजा मोहन आजा मोहन,
आजा मोहन आजा मोहन।।



तुम्ही आसरा हो तुम्ही हो सहारा,
तूफा में कश्ती तुम्ही हो किनारा,
दुनियाँ के रिश्ते हुए आज खारिज,
रोकर के मैंने तुम्हे अब पुकारा,
रोकर के मैंने तुम्हे अब पुकारा।।

Singer – Geetu Arora


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।